UPTET हिंदी व्याकरण के महत्वपूर्ण प्रश्न | 2nd January 2020

हिंदी भाषा TET परीक्षा का एक महत्वपूर्ण भाग है इस भाग को लेकर परेशान होने की जरुरत नहीं है .बस आपको जरुरत है तो बस एकाग्रता की. ये खंड न सिर्फ CTET Exam (परीक्षा) में एहम भूमिका निभाता है अपितु दूसरी परीक्षाओं जैसे UPTETKVS ,NVSDSSSB आदि में भी रहता है, तो इस खंड में आपकी पकड़, आपकी सफलता में एक महत्वपूर्ण कदम साबित हो सकती है.TEACHERSADDA आपके इस चुनौतीपूर्ण सफ़र में हर कदम पर आपके साथ है।

Q1. ‘यह मेरी पुस्तक है’ में गहरा शब्द है

(a) विशेषण
(b) सर्वनाम
(c) संज्ञा
(d) अव्यय

Q2. क्रिया का मूल रूप कहलाता है
(a) धातु
(b) कारक
(c) क्रिया विशेषण
(d) इनमें से कोई नहीं

Q3. निम्नलिखित वाक्यों में से कौन-सा वाक्य है जिसकी क्रिया कर्ता के लिंग के अनुसार ठीक नहीं है?
(a) राम आता है।
(b) घोड़ा दौड़ता है।
(c) हाथी सोती है।
(d) लड़की जाती है।

Q4. निम्नलिखित में विकारी शब्द कौन – से हैं?
(a) संज्ञा-सर्वनाम-विशेषण-क्रिया
(b) तत्सम-तद्भव-देशज-विदेशज
(c) क्रिया-विशेषण-सम्बन्धबोधक-विस्मययादिबोधक
(d) उपर्युक्त में से कोई नहीं

Q5. निम्नलिखित वाक्य में गहरा शब्द विशेषण है, उसका भेद छाँटिए। कुछ बच्चे कक्षा में शोर मचा रहे थे।

(a) गुणवाचक विशेषण
(b) अनिश्चित परिमाणवाचक विशेषण
(c) सार्वनामिक विशेषण
(d) अनिश्चित संख्यावाचक विशेषण

Q6. संज्ञा या सर्वनाम की विशेषता बतलाने वाले शब्दों को क्या कहते हैं?
(a) विशेषण
(b) विशेष्य
(c) क्रिया
(d) अव्यय

Q7. देश को हानि जयचन्दों से होती है। – गहरा शब्द में संज्ञा है

(a) जातिवाचक
(b) व्यक्तिवाचक
(c) भाववाचक
(d) द्रव्यवाचक

Q8. तुम्हे क्या चाहिए- गहरा शब्द का सर्वनाम भेद है

(a) निजवाचक सर्वनाम
(b) प्रश्नवाचक सर्वनाम
(c) सम्बन्धवाचक सर्वनाम
(d) निश्चय वाचक सर्वनाम

Q9. मीरा ने आधा लीटर दूध पी लिया। – गहरा शब्द में विशेषण है

(a) गुणवाचक
(b) संख्यावाचक
(c) परिमाणवाचक
(d) सार्वनामिक

Q10. ‘नल बूदँ-बूदँ टपक रहा है।’- वाक्य में गहरा शब्द है
(a) विशेषण
(b) क्रिया
(c) क्रिया विशेषण
(d) सर्वनाम

Solutions

S1. Ans.(b) पुरुषवाचक सर्वनाम- जिन सर्वनाम शब्दों का प्रयोग वक्ता द्वारा खुद के लिए या दुसरो के लिए किया जाता है, उसे पुरुषवाचक सर्वनाम कहते हैं। जैसे – मैं, हम (वक्ता द्वारा खुद के लिए), तुम और आप (सुनने वाले के लिए) और यह, वह, ये, वे (किसी और के बारे में बात करने के लिए) आदि।

S2. Ans.(a)धातु की परिभाषा- क्रिया के मूल रूप को धातु कहते है। मूल धातु में ‘ना’ प्रत्यय लगाने से क्रिया का सामान्य रूप बनता है।

S3. Ans.(c)हाथी सोती है।

S4. Ans.(a)विकारी शब्द- जिन शब्दों का रूप-परिवर्तन होता रहता है वे विकारी शब्द कहलाते हैं। जैसे-कुत्ता, कुत्ते, कुत्तों, मैं मुझे,हमें अच्छा, अच्छे खाता है, खाती है, खाते हैं। इनमें संज्ञा, सर्वनाम, विशेषण और क्रिया विकारी शब्द हैं।

S5. Ans.(d) अनिश्चित संख्यावाचक विशेषण – जिस विशेषण से संख्या निश्चित रूप से नहीं जानी जा सके, वह अनिश्चित विशेषण है। जैसे- कई, कुछ, सब, थोड़, सैकड़ों, अरबों आदि।

S6. Ans.(a)

S7. Ans.(a)जातिवाचक संज्ञा – जिस शब्द से एक जाति के सभी प्राणियों अथवा वस्तुओं का बोध हो, उसे जातिवाचक संज्ञा कहते हैं।

S8. Ans.(b)

S9. Ans.(c)निश्चित परिमाणवाचक- जो विशेषण शब्द किसी वस्तु की निश्चित मात्रा अथवा माप-तौल का बोध कराते हैं, वे निश्चित परिमाणवाचक विशेषण कहलाते है। जैसे- ‘दो सेर’ घी, ‘दस हाथ’ जगह, ‘चार गज’ मलमल, ‘चार किलो’ चावल।

S10. Ans.(c)यौगिक क्रियाविशेषण – जो दूसरे शब्दों में प्रत्यय या पद आदि लगाने से बनते हैं उन्हें यौगिक क्रियाविशेषण कहते हैं। शब्दों की द्विरुक्ति से क्रियाविशेषण, जैसे :- कभी – कभी , धीरे -धीरे , बार-बार , घर-घर , घड़ी-घड़ी , बीच-बीच , हाथों-हाथ ,बूदँ-बूदँ


Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *