UP Aided Junior High School Teacher Recruitment 2021 : Complete Detailed Syllabus And Exam Pattern

यूपी सरकार यूपी मे शिक्षक के पदों पर जल्द ही भर्ती करने जा रही है। इन पदों पर चयन लिखित परीक्षा के माध्यम से होगा । यूपी सहायक शिक्षक और प्रधानाध्यापक भर्ती के लिए आवेदन प्रक्रिया 22 फरवरी 2021 से शुरू होकर 8 मार्च 2021 तक चलेगी। इस वर्ष UPBEB ने 1504 यूपी सहायक शिक्षक और 390 हेडमास्टर की रिक्तियां यानी कुल 1894 रिक्तियां जारी की है .

उत्तर प्रदेश सहायता प्राप्त जूनियर हाई स्कूल परीक्षा एक पेपर पेन (ऑफलाइन मोड) आधारित परीक्षा है। इच्छुक उम्मीदवार जो अपने UPTET /CTET पीक्षा को सफलतापूर्वक उत्तीर्ण करते हैं वे SUPER TET सहायता प्राप्त जूनियर हाई स्कूल परीक्षा 2021 के लिए आवेदन कर सकते हैं। तो दोस्तों, अब अपनी कमर कस लें और इस अद्भुत अवसर को हासिल करने का प्रयास करें

 

यूपी सहायक शिक्षक और प्रधानाध्यापक भर्ती 2021 सिलेबस

 

सामान्य ज्ञान/समसामयिक घटनाएँ/तार्किक ज्ञान

  • राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय महत्व की समसामयिक घटनाएँ ।
  • भारत का इतिहास एवं भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन ।
  • भारत का भूगोल ।
  • भारतीय राजनीति एवं शासन – संविधान, राजनीतिक व्यवस्था, पंचायती राज, लोकनीति, आधिकारिक प्रकरण आदि ।
  • आर्थिक और सामाजिक विकास – सतत विकास, गरीबी अन्तर्विष्ट जनसांख्यिकीय, सामाजिक क्षेत्र के इनिशियेटिव आदि ।
  • पर्यावरण एवं पारिस्थितिकी सम्बन्धी सामान्य विषय, जैव विविधता एवं जलवायु परिवर्तन ।
  • सामान्य विज्ञान ।
  • Analogies, assertion and reason, binary logic, classification, clocks and calendars, coded inequalities coding – decoding.

प्रधानाध्यापक एवं सहायक अध्यापक हेतु

(खण्ड )

  1. हिन्दी
  • हिन्दी साहित्य एवं भाषा का इतिहास ।
  • व्याकरण ।
  • अपठित गद्यांश तथा पद्यांश ।
  • प्रमुख लेखकों/कवियों का सामान्य परिचय एक उनकी रचनाएँ ।
  1. English

 

  • History of English Literature and Language.
  • Unseen Passage,
  • Writers, general introduction and their work.
  1. संस्कृत
  • संस्कृत भाषा एवं साहित्य के इतिहास की जानकारी ।
  • व्याकरण ।
  • अपठित गद्यांश/पद्यांश ।
  • प्रमुख लेखकों/कवियों का सामान्य परिचय एक उनकी कृतियाँ ।

(खण्ड ‘)

  1. सामाजिक अध्ययन
  • इतिहास जानने के स्रोत ।
  • पाषाणकालीन संस्कृति, ताम्र पाषाणिक संस्कृति, वैदिक संस्कृति ।
  • छठी शताब्दी ई०पू० का भारत ।
  • भारत के प्रारम्भिक राज्य ।
  • भारत में मौर्य साम्राज्य की स्थापना ।
  • मौर्योत्तरकालीन भारत, गुप्तकाल, राजपूत कालीन भारत, पुष्यभूति वंश, दक्षिण भारत के राज्य ।
  • छठी शताब्दी का धार्मिक तथा सामाजित विकास ।
  • इस्लाम का भारत में आगमन, दिल्ली सल्तनत की स्थापना, विस्तार, विघटन ।
  • मुगल साम्राज्य, संस्कृति, पतन ।
  • यूरोपीय शक्तियों का भारत में आगमन एवं अंग्रेजी राज्य की स्थापना ।
  • भारत में कम्पनी राज्य का विस्तार ।
  • भारत में नवजागरण, भारत में राष्ट्रवाद का उदय ।
  • स्वाधीनता आन्दोलन, स्वतंत्रता प्राप्ति, भारत विभाजन ।
  • स्वतंत्र भारत की चुनौतियाँ ।
  • हम और हमारा समाज ।
  • ग्रामीण एवं नगरीय समाज व रहन – सहन, ग्रामीण एवं नगरीय स्वशासन ।
  • जिला प्रशासन ।
  • हमारा संविधान, केन्द्रीय व राज्य शासन व्यवस्था ।
  • भारत में लोकतंत्र ।
  • देश की सुरक्षा एवं विदेश नीति, वैश्विक समुदाय एवं भारत ।
  • नागरिक सुरक्षा, यातायात सुरक्षा ।
  • दिव्यांगता ।
  • सौरमण्डल में पृथ्वी, ग्लोब – पृथ्वी पर स्थानों का निर्धारण, पथ्वी की गतियाँ ।
  • मानचित्रण, पृथ्वी के चार परिमण्डल, स्थल मण्डल – पृथ्वी की संरचना, पृथ्वी के प्रमुख स्थलरूप ।
  • विश्व में भारत, भारत का भौतिक स्वरूप, मृदा, उर्वरक का प्रयोग एवं महत्व, वनस्पति एवं वन्य जीव, भारत की जलवायु, भारत के आर्थिक संसाधन, यातायात, व्यापार एवं संचार ।
  • उत्तर प्रदेश भारत में स्थान, राजनीतिक विभाग, जलवायु, मृदा, वनस्पति एवं वन्यजीव, कृषि, खनिज उद्योग – धन्धे, जनसंख्या एवं नगरीकरण ।
  • वायुमण्डल, जलमण्डल ।
  • संसार के प्रमुख प्राकृतिक प्रदेश एवं जनजीवन ।
  • खनिज संसाधन, उद्योग – धन्धे ।
  • भारतीय अर्थव्यवस्था एवं उसकी चुनौतियाँ ।
  • पर्यावरण, प्राकृतिक संसाधन एवं उनकी उपयोगिता ।
  • प्राकृति संतुलन, संसाधनों का उपयोग ।
  • जनसंख्या वृद्धि का पर्यावरण पर प्रभाव, पर्यावरण प्रदूषण ।
  • अपशिष्ट प्रबन्धन, आपदाएँ, पर्यावरणविद, पर्यावरण के क्षेत्र में पुरस्कार, पर्यावरण दिवस, पर्यावरण कैलेण्डर ।

(खण्ड ‘)

  1. गणित
  • प्राकृतिक संख्याएँ, पूर्ण संख्याएँ, परिमेय संख्याएँ ।
  • पूर्णाक, कोष्ठक लघुत्तम समापवर्त्य एवं महत्तम समापवर्तक ।
  • वर्गमूल, घनमूल, सर्वसमिकाएँ ।
  • बीजगणित, अवधारणा – चर संख्याएँ, अचर संख्याएँ, चर संख्याओं की घात ।
  • बीजीय व्यंजकों का जोड, घटाना. गणा एवं भाग, बीजीय व्यंजकों के पद एवं पदों के गुणांक,सजातीय एवं विजातीय पद, व्यंजकों की डिग्री, एक, दो एवं त्रिपदीय व्यंजकों की अवधारणा ।
  • युगपत समीकरण, वर्ग समीकरण, रेखीय समीकरण ।
  • समान्तर रेखाएँ, चतुर्भज की रचनाएँ, त्रिभुज ।
  • वृत्त और चक्रीय चतुर्भुज, वृत्त की स्पर्श रेखाएँ ।
  • अनुपात, समानुपात, प्रतिशतता, लाभ – हानि, साधारण ब्याज, चक्रवृद्धि ब्याज ।
  • सांख्यिकी – आंकड़ों का वर्गीकरण, पिक्टोग्राफ, माध्य, माध्यिका एवं बहुलक, बारम्बारता ।
  • पाई एवं दण्ड चार्ट, अवर्गीकृत आँकड़ों का चित्र ।
  • सम्भावना (प्रायिकता) ग्राफ, दण्ड, आरेख तथा मिश्रित दण्ड आरेख ।
  • कार्तीय तल, क्षेत्रमिति (मेन्सुरेशन), घातांक, त्रिकोणमिति ।
  1. विज्ञान
  • दैनिक जीवन में विज्ञान, महत्वपूर्ण खोज, महत्य, मानव विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी ।
  • रेशे एवं वस्त्र, रेशों से वस्त्रों तक । (प्रक्रिया)
  • सजीव, निर्जीव पदार्थ – जीव जगत, सजीवों का वर्गीकरण, जन्तु एवं वनस्पति के आधार पर पौधों का वर्गीकरण एवं जन्तुओं का वर्गीकरण, जीवों में अनुकूलन, जन्तुओं एवं पौधों में परिवर्तन । – जन्तु की संरचना व कार्य ।
  • सूक्ष्म जीव एवं उनका वर्गीकरण । – कोशिका से अंगतन्त्र तक ।
  • किशोरावस्था, विकालांगता ।
  • भोजन, स्वास्थ्य, स्वच्छता एवं रोग, फसल उत्पादन, नाइट्रोजन चक्र ।
  • जन्तुओं में पोषण, पौधों में पोषण, जनन, लाभदायक पौधे । – जीवों में श्वसन, उत्सर्जन, लाभदायक जन्तु ।
  • मापन, विद्युत धारा, चुम्बकत्व, गति, बल एवं यंत्र ।
  • ऊर्जा, ध्वनि, स्थिर विद्युत, प्रकाश एवं प्रकाश यंत्र ।
  • वायु – गुण, संघटन, आवश्यकता, उपयोगिता, ओजोन परत, हरित गृह प्रभाव ।
  • जल – आवश्यकता, उपयोगिता, स्रोत, गुण, प्रदूषण, जल – संरक्षण ।
  • पदार्थ, पदार्थों के समूह, पदार्थों का पृथक्करण, पदार्थ की संरचना एवं प्रकृति ।
  • अम्ल, क्षार, लवण ।
  • ऊष्मा एवं ताप ।
  • मानव निर्मित वस्तुएँ, प्लास्टिक, काँच, साबुन, मृतिका ।
  • खनिज एवं धातु, कार्बन एवं उसके यौगिक ।
  • ऊर्जा के वैकल्पिक स्रोत ।
  • आवर्त सारिणी, रक्त की संरचना, वर्ग एवं रक्त के आदान – प्रदान में सावधानिया ।
  1. शैक्षिक प्रबन्धन एवं प्रशासन (प्रधानाध्यापक हेतु)
  • विद्यालय प्रबन्धन का अर्थ, आवश्यकता एवं महत्व ।
  • विद्यालय प्रबन्धन के क्षेत्र ।
  • भौतिक संसाधनों का प्रबन्धन (विद्यालय भवन, फर्नीचर, शैक्षिक उपकरण, साज – सज्जा, पेयजल, शौचालय) ।
  • मानवीय संसाधनों का प्रबन्धन (शिक्षक, बच्चे, समुदाय – ग्राम शिक्षा समिति, विद्यालय प्रबन्धन समिति, शिक्षक अभिभावक संघ, मातृशिक्षक संघ, महिला प्रेरक दल) ।
  • वित्तीय प्रबन्धन (विद्यालय अनुदान, टी. एल. एम. ग्रान्ट, विद्यालय को समुदाय से प्राप्त धन, विद्यालय की सम्पत्ति से अर्जित धन, ग्राम पंचायत निधि से/जनप्रतिनिधियों से प्राप्त अनुदान) ।
  • शैक्षिक प्रबन्धन (कक्षा – कक्ष प्रबन्धन, शिक्षण अधिगम सामग्री प्रबन्धन, लर्निंग कॉर्नर एवं पुस्तकालय प्रबन्धन, । समय प्रबन्धन : समय सारिणी का निर्माण व प्रयोग ।
  • विद्यालय प्रबन्धन में विभिन्न अभिकर्मियों की भूमिका ।
  • प्रारम्भिक शिक्षा के विकास में संलग्न विभिन्न अभिकरण एवं उनकी भूमिका ।
  • राष्ट्रीय/राज्य/जिला/स्थानीय स्तर पर कार्य करने वाले अभिकरण ।
  • प्राथमिक शिक्षा का आधारभूत ढाँचा ।
  • आपदा प्रबन्धन ।

Download UP Aided Junior High School Teacher Syllabus PDF

×

Download success!

Thanks for downloading the guide. For similar guides, free study material, quizzes, videos and job alerts you can download the Adda247 app from play store.

Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

×
Login
OR

Forgot Password?

×
Sign Up
OR
Forgot Password
Enter the email address associated with your account, and we'll email you an OTP to verify it's you.


Reset Password
Please enter the OTP sent to
/6


×
CHANGE PASSWORD