Stages of Development- CDP Notes for CTET Exam

CTET 2020

Different Stages of Development (From Infancy to Adolescence)/विकास के विभिन्न चरण और (शैशव अवस्था से किशोरावस्था तक)

Stages of Development: The development of human being passes through various stages. Each and every stage has different characteristics and behaviours. The characteristics of one stage differ the characteristics of the other stage. Hence, in order to understand a child, the teacher must know these characteristics. The different psychologists have divided the human development in different stages. Some of the classifications are as below :

विकास के चरण:  मानव का विकास विभिन्न चरणों से होकर गुजरता है। प्रत्येक चरण में अलग-अलग विशेषताएं और व्यवहार होते हैं। एक चरण की विशेषता दूसरे चरण की विशेषता से  भिन्न होती है। इसलिए, एक बच्चे को समझने के लिए, शिक्षक को इन विशेषताओं को जानना जरुरी है विभिन्न मनोवैज्ञानिकों ने मानव विकास को विभिन्न चरणों में विभाजित किया है। कुछ वर्गीकरण नीचे दिए गए हैं:

GET FREE Study Material For CTET 2020 Exam

According to Ross: रोस के अनुसार:

The human development passes through the following stages :

मानव विकास निम्नलिखित चरणों से गुजरता है:

(i) Infancy शैशव अवस्था 1 to 3 years 1 से 3 वर्ष
(ii) Early childhood     प्रारंभिक बाल्यावस्था 3 to 6 years  3 से 6 वर्ष
(iii) Late childhood    उत्तर बाल्यावस्था 6 to 12 years 6 से 12 वर्ष
(iv) Adolescence किशोरावस्था 12 to 18 years 12 से 18 वर्ष

Complete Study Material Of Child Pedagogy for CTET Exam

According to Sellay : सीले के अनुसार:

(i) Infancy शैशव अवस्था 1 to 2 years 1 से 2 वर्ष
(ii) Childhood                बाल्यावस्था 3 to 6 years  3 से 6 वर्ष
(iii) Late childhood    उत्तर बाल्यावस्था 6 to 12 years 6 से 12 वर्ष
(iv) Adolescence किशोरावस्था 12 to 18 years 12 से 18 वर्ष

CDP Study Notes for all Teaching Exams

According to Kolesnic : कोलेस्निक के अनुसार:

(i) Pre – natal प्रसव-पूर्व The period from conception to birth is termed as ‘pre – natal’ stage  गर्भाधान से जन्म तक की अवधि को ‘प्रसव-पूर्व’ अवस्था कहा जाता है
(ii) Neo-natal  नवजात From birth to 3 or 4 weeks जन्म से 3 या 4 सपताक तक
(iii) Early Infancy प्रारंभिक शैशव अवस्था 15 to 30 months 15 से 30 माह
(iv) Late Infancy उत्तर शैशव अवस्था 5 to 9 years 5 से 9 वर्ष
(v) Early Childhood प्रारंभिक बाल्यावस्था 30 months to 5 years 30 माह से 5 वर्ष
(vi) Middle Childhood मध्य बाल्यावस्था 5 to 9 years  5 से 9 वर्ष
(vii) Late Childhood उत्तर बाल्यावस्था 9 to 12 years 9 से 12 वर्ष
(viii) Adolescence किशोरावस्था 12 to 21 years 12 से 21 वर्ष

5 Important Topic Of CDP For CTET 2020 Exam

According to Ruch : रच के अनुसार:

(a) Germinal Period  अंकुरण काल Its duration is 0 to 2 weeks. During this period, the fertilized ovum develops due to cell – division.  इसकी अवधि 0 से 2 सप्ताह है। इस अवधि के दौरान, निषेचित अंडाणु कोशिका विभाजन के कारण विकसित होता है
(b) Embryonic Stage  भ्रूण अवस्था This stage lasts from 2 to 10 weeks. In this stage, the various organs of the body start getting their shapes developed  यह अवस्था 2 से 10 सप्ताह तक रहती है। इस अवस्था में शरीर के विभिन्न अंगों का आकार विकसित होने लगता है
(c) Foetal Stage गर्भधारण काल From 10 weeks to the birth period comes under this stage.  10 सप्ताह से जन्म अवधि इस चरण के अंतर्गत आती है

Practice More Child Pedagogy Quiz for CTET 2020

According to E.B. Hurlock : ई.बी. हर्लोक के अनुसार:

1. Pre-natal Period प्रसव पूर्व अवधि From conception period to birth i.e., 280 days. गर्भाधान काल से जन्म तक यानी 280 दिन
2. Infancy Stage शैशव अवस्था From birth to 2 weeks जन्म से 2 सप्ताह तक
3. Babyhood बचपन upto 2 years 2 वर्ष तक
4. Childhood : बाल्यावस्था

(a) Early childhood प्रारंभिक बाल्यावस्था

(b) Later childhood उत्तर बाल्यावस्था

From 2 to 11 or 12 years. 2 से 11 या 12 वर्ष तक

upto 6 years 6 वर्ष तक

From 7 to 12 years 7 से 12 वर्ष तक

5. Adolescence       किशोरावस्था

(a) Pre Adolescence     पूर्व किशोरावस्था

(b) Early Adolescence प्रारंभिक किशोरावस्था

(c) Later Adolescence उत्तर किशोरावस्था

From 11 to 13 years to 20 – 21 years. 11 से 13 वर्ष तक और 20 से 21 वर्ष तक

In girls, it is 11 – 13 years and in boys it is one year later. लड़कियों में 11-13 वर्ष तक और लड़कों में इसके 1 वर्ष बाद

upto 16 – 17 years 16-17 वर्ष तक

upto 20 – 21 years 20-21 वर्ष तक

Child Pedagogy Section in CTET: How to Improve Your Score

According to Dr. C.L. Kundu and Dr. D.N. Tutoo : डॉ, सी.एल. कुंडू और डॉ. डी.एन टूटू के अनुसार

1. Pre-natal :    प्रसव पूर्व

a. Ovum अंडाणु

b. Embryo  भ्रूण

c. Foetus गर्भ

0 to 250 or 300 days.  0 से 250 या 300 दिन

0 to 2 weeks 0 से 2 सप्ताह

2 to 10 weeks 2 से 10 सप्ताह

From 10 weeks till birth 10 सप्ताह से जन्म तक

2. Neonate Stage नवजात अवस्था The life period of first two weeks just after birth जन्म के ठीक बाद दो सप्ताह की जीवन अवधि
3. Infancy शैशव अवस्था First two years after birth जन्म के बाद पहले 2 सप्ताह
4. Early Childhood प्रारंभिक बाल्यावस्था 2 to 6 years 2 से 6 वर्ष
5. Middle Childhood मध्य बाल्यावस्था 6 to 10 years 6 से 10 वर्ष
6. Late Childhood उत्तर बाल्यावस्था 10 to 13 years 10 से 13 वर्ष
7. Puberty यौवनारम्भ In girls it is in 12 years, boys in 14 years लड़कियों में यह 12 वर्ष में, लड़कों में 14 वर्ष में
8. Early Adolescence प्रारंभिक किशोरावस्था 13 to 15 years 13 से 15 वर्ष
9. Later Adolescence उत्तर किशोरावस्था 15 to 20 years 15 से 20 वर्ष
10. Adulthood and old age वयस्कता और वृद्धावस्था From 20 years to the end 20 वर्ष से अंत तक

Download Adda247 App Now

According to Jones : जोन्स के अनुसार:

(a) Infancy शैशव अवस्था From birth to 5 years  जन्म से 5 वर्ष तक
(b) Childhood बाल्यावस्था 6 to 12 years 6 से 12 वर्ष
(c) Adolescence किशोरावस्था 13 to 19 years  13 से 19 वर्ष
(d) Adulthood वयस्कता Above 20 years 20 वर्ष के बाद

Download Child Pedagogy PDF Notes

CTET 2020