CTET/UPTET 2019 Exam – Practice Hindi Questions Now | 14th November 2019

हिंदी भाषा TET परीक्षा का एक महत्वपूर्ण भाग है इस भाग को लेकर परेशान होने की जरुरत नहीं है .बस आपको जरुरत है तो बस एकाग्रता की. ये खंड न सिर्फ CTET Exam (परीक्षा) में एहम भूमिका निभाता है अपितु दूसरी परीक्षाओं जैसे UPTETKVS ,NVSDSSSB आदि में भी रहता है, तो इस खंड में आपकी पकड़, आपकी सफलता में एक महत्वपूर्ण कदम साबित हो सकती है.TEACHERSADDA आपके इस चुनौतीपूर्ण सफ़र में हर कदम पर आपके साथ है।
Q1. “चरर मरर खुल गए अरर रवस्फुओं से” में कौन-सा अलंकार है? 
(a) अनुप्रास 
(b) श्लेष 
(c) यमक 
(d) उत्प्रेक्षा
Q2. बड़े न हुजे गुनन बिनु वरद बड़ाई पाय 
कहत धतूरे सों कनक, गहनो गाढ़ो न जाए।। 
प्रस्तुत पंक्तियों में कौन-सा अलंकार है? 
(a) अतिशयोक्ति
(b) प्रतिवस्तूपमा 
(c) अर्थान्तरन्यास 
(d) विरोधाभास 
Q3. चरण-कमल बन्दौ हरि राई में कौन-सा अलंकार है? 
(a) श्लेष 
(b) उपमा
(c) रूपक 
(d) अतिशयोक्ति 
Q4. कनक कनक ते सौगुनी , मादकता अधिकाया। 
वा खाए बौरात नर, या पाए बौराय।। 
प्रस्तुत पंक्तियों में कौन-सा अलंकार है? 
(a) उपमा 
(b) यमक 
(c) अनुप्रास
(d) श्लेष 

Q5. मन-सागर मनसा लहरि, बूडे-बहे अनके। 
प्रस्तुत पंक्तियों में कौन-सा अलंकार है? 
(a) अनुप्रास 
(b) रूपक
(c) श्लेष
(d) वक्रोति 
Q6. दिवावसान का समय मेघमय आसमान से उतर रही है 
वह संध्या-सुन्दरी परी धीरे-धीरे। 
प्रस्तुत पंक्तियों में कौन-सा अलंकार है? 
(a) उपमा
(b) रूपक
(c) मानवीकरण 
(d) इनमें से कोई नहीं 
Q7. अलंकार चुनिए : 
आगे नदिया पड़ी अपार, कैसा घोड़ा उत्तरे पार। 
राणा ने सोचा इस पार तब तक चेतक था उस पार।। 
(a) उपमा
(b) अतिशयोक्ति 
(c) संदेह 
(d) अपह्नुति 
Q8. अब अलि रही गुलाब में, अपत कटीली डार पर में कौन-सा अलंकार है? 
(a) उपमा 
(b) उत्प्रेक्षा 
(c) अन्योक्ति 
(d) अतिशयोक्ति 
Q9. “अति मलीन वृषभानुकुमारी । 
अधोमुख रहति, उरध नहिं चितवत, 
ज्यों गथ हारे थकित जुआरी। 
छूटे चिहुर बदन कुम्हिलानो, 
ज्यों नलिनी हिमकर की मारी।” 
प्रस्तुत पंक्तियों में कौन-सा अलंकार हैं?
(a) अनुप्रास
(b) उत्प्रेक्षा
(c) रूपक
(d) उपमा 
Q10. नहिं पराग नहिं मधु, नहिं विकास इहि काल। 
अली कली ही सौं विध्यौं, आगे कौन हवाल।। 
प्रस्तुत पंक्तियों में कौन-सा अलंकार हैं? 
(a) उत्प्रेक्षा
(b) रूपक 
(c) अन्योक्ति
(d) अतिशयोक्ति 
Solutions
S1. Ans.(a)
S2. Ans.(c)अर्थान्तरन्यास- जहाँ सामान्य कथन का विशेष से या विशेष कथन का सामान्य से समर्थन किया जाए, वहाँ अर्थान्तरन्यास अलंकार होता है। सामान्य – अधिकव्यापी, जो बहुतों पर लागू हो।
विशेष – अल्पव्यापी, जो थोड़े पर ही लागू हो।
प्रतिवस्तूपमा – जहाँ उपमेय और उपमान वाक्यों का विभिन्न शब्दों द्वारा एक ही धर्म कहा जाता है, वहाँ प्रतिवस्तूपमा अलंकार होता है.
S3. Ans.(c)
S4. Ans.(b)
S5. Ans.(b)
S6. Ans.(c) मानवीकरण अलंकार – जब प्राकृतिक वस्तुओं कैसे पेड़,पौधे बादल आदि में मानवीय भावनाओं का वर्णन हो यानी निर्जीव चीज़ों में सजीव होना दर्शाया जाए तब वहां मानवीकरण अलंकार आता है
S7. Ans.(b)
S8. Ans.(c)
S9. Ans.(d)
S10. Ans.(c)अन्योक्ति  अलंकार- जहाँ उपमान के बहाने उपमेय का वर्णन किया जाय या कोई बात सीधे न कहकर किसी के सहारे की जाय, वहाँ अन्योक्ति अलंकार होता है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *