Hindi Questions For CTET/KVS/DSSSB/UPTET Exam :13th November 2018 (Solutions)

निर्देश ( प्रश्न 1-4): निम्नलिखित पद्यांश के आधार पर प्रश्नों के सही विकल्प चुनिये—
ओह, समय पर उसमें कितनी फलियाँ फूटी!
कितनी सारी फलियाँ, कितनी प्यारी फलियाँ,
यह, धरती कितनी देती है! धरती माता कितना देती है अपने देती है!
धरती माता कितना देती है अपने प्यारे पुत्रों को!
बचपन में छिः स्वार्थ लोभ वश पैसे बोकर!
रत्न प्रसविनी है वसुधा, अब समझ सका हूँ।
इसमें सच्ची समता के दाने बोने हैं,
इसमें जन की क्षमता के दाने बोने हैं,
जिससे उगल सके फिर धूल सुनहली फसलें
मानवता की-जीवन श्रम से हँसे दिशाएँ।
हम जैसे बोएँगे वैसा ही पाएँगे।
Q1. कवि किसका महत्व नहीं समझ पाया था ?
(a) माँ का
(b) धरती माँ का
(c) परिश्रम का
(d) आत्मविश्वास का
Q2. कवि ने बचपन में किस भाव से पैसे बोए थे ?
(a) निःस्वार्थ भाव से
(b) सोच विचार से
(c) स्वर्थ एवं लोभ से
(d) मोह से
Q3. मानवता की सुनहली फसलें कब उगेंगी ?
(a) जब हम परिश्रम करेंगे
(b) जब समता और क्षमता के बीच बोए जाएँगे।
(c) जब चारों ओर शान्ति होगी
(d) जब धूल सोना उगलेगी
Q4. ‘धरती कितना देती है’ का आशय है-
(a) बहुत कम देती है
(b) कितना देती है
(c) बहुत अधिक देती है
(d) कुछ देती ही कहाँ है
निर्देश ( प्रश्न 5-10): निम्नलिखित प्रश्नों के सही विकल्प चुनिये—
Q5. ‘संघ की राजभाषा हिन्दी और लिपि देवनागरी होगी’ यह संविधान के किस अनुच्छेद में वर्णित है ?
(a) अनुच्छेद 343
(b) अनुच्छेद 344
(c) अनुच्छेद 345
(d) अनुच्छेद 346
Q6. सम सुबरन सुखमाकर, सुखद न थोर। सीय अंग सखि कोमल, कनक कठोर।। इस छन्द में प्रयुक्त अलंकार है-
(a) निदर्शना
(b) व्यतिरेक
(c) समासोक्ति
(d) अर्थान्तरन्यास
Q7. ‘नीर भरे नित प्रति रहैं तऊ न प्यास बुझाई’ पंक्ति में कौन-सा अलंकार है ?
(a) अतिशयोक्ति
(b) विशेषोक्ति
(c) विभावना
(d) उपमा
Q8. जहाँ किसी वस्तु का लोक-सीमा से इतना बढ़ कर वर्णन किया जाय कि वह असम्भव की सीमा तक पहुँच जाय, वहाँ अलंकार होता है-
(a) अतिशयोक्ति
(b) विरोधाभास
(c) अत्युक्ति
(d) उत्पे्रक्षा
Q9. ‘उतरि नहाये जमुन जल जो सरीर सम स्याय’-पंक्ति में कौन-सा अलंकार है?
(a) उपमा
(b) प्रतीत
(c) विशेषोक्ति
(d) विभावना
Q10. माँ के शुचि उपकारों का, जीवन में अन्त नहीं है। निस्वार्थ साधना पथ पर, माँ जैसा सन्त नहीं है।।
उपर्युक्त काव्य पंक्तियों में मुख्य रूप से कौन-सा अलंकार लक्षित हो रहा है ?
(a) विभावना
(b) विशेषोक्ति
(c) प्रतीत
(d) अनन्वय
Solutions:
S1. Ans.(b)
S2. Ans.(c)
S3. Ans.(b)
S4. Ans.(c)
S5. Ans.(a)
S6. Ans.(b) समासोक्ति अर्थालंकार – जहाँ उपमेय का वर्णन इस प्रकार किया जाय कि उसमें अप्रस्तुत का भी ज्ञान हो, या परन्तु व्यंजना से अप्रस्तुत की अभिव्यक्ति हो तब समासोक्ति अलंकार होता है।
व्यतिरेक अर्थालंकार – जहाँ उपमान की अपेक्षा अधिक गुण होने के कारण उपमेय का उत्कर्ष हो, वहाँ ‘व्यतिरेक अलंकार’ होता है।
अर्थान्तरन्यास अलंकार- जहाँ सामान्य कथन दव्ारा विशेष का एवं विशेष कथन दव्ारा सामान्य कथन का समर्थन किया जाए, वहाँ अर्थांतरन्यास अलंकार होता है।
निदर्शना- उपमेय का गुण उपमान में अथवा उपमान का गुण उपमेय में आरोपित होना
S7. Ans.(b)
S8. Ans.(c) अत्युक्ति-जिसमें बात को बढ़ाचढ़ाकर कहा जाता है ताकि किसी गुण-दोष विशेष को अधिक प्रभावपूर्ण ढंग से कहा जा सके।
S9. Ans.(b)
S10. Ans.(c)